cold storage starts shri guru ramdas ji international airport punjab amritsar
Connect with us

Amritsar

श्री गुरु रामदास जी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर किसानों और कारोबारियों को मिलेगा फायदा

Published

on

cold storage starts shri guru ramdas ji international airport punjab amritsar

अमृतसर : श्री गुरु रामदास जी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर एक बार फिर कोल्ड स्टोरेज की सुविधा शुरू होने जा रही है। इसके शुरू होने का फायदा पंजाब के अलावा हिमाचल, हरियाणा और जम्मू कश्मीर के किसानों और कारोबारियों को मिलेगा। cold storage starts at shri guru ramdas international airport punjab amritsar

एयरपोर्ट पर यह सुविधा जून 2019 तक शुरु होने की उम्मीद है। इसके लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी आफ इंडिया के कारगो लॉजिस्टिक एंड एलाइड कंपनी सर्विसेस और पंजाब सरकार के बीच एमओयू साइन हो चुका है। कोल्ड स्टोरेज की सुविधा शुरु होने पर यहां से पेरिशेबल गुड्स को आसानी और सफलतापूर्वक विदेशों में एक्सपोर्ट कर पाएंगे।

cold storage starts shri guru ramdas ji international airport punjab amritsar

पंजाब की विरासत से जुड़े सरसों के साग का निर्यात शुरु होगा। इसके अलावा हरी सब्जियां, गाजर, मटर, टमाटर, धनिया, ब्रोकली भी विदेशों में भेजी जा सकेंगी। वहीं दूध प्रोडक्ट्स लस्सी, मिल्क केक, पनीर आदि को भी अच्छे वातावरण में विदेशों में भेजा जा सकेगा। वहीं एयरपोर्ट पर कोल्ड स्टोरेज की सुविधा शुरु होने पर पंजाब के मटन का कारोबार भी बहुत तेजी से प्रफुल्लित होगा।

cold storage starts shri guru ramdas ji international airport punjab amritsar

cold storage starts shri guru ramdas ji international airport punjab amritsar

कोल्ड चेन में 80 मीट्रिक टन पेरिशेबल कारगो की सुविधा होगी, जिससे पंजाब, हिमाचल, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर के किसानों व व्यापारियों को सीधा फायदा पहुंचेगा। इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के एक सर्वे के अनुसार पंजाब, हरियाणा, हिमाचल और जम्मू कश्मीर से 30 फीसदी कारगो आता है। इस सुविधा के शुरू होने पर आईजीआई एयरपोर्ट से भी बोझ कम होगा।

यह पहली बार नहीं है, जब अमृतसर एयरपोर्ट पर कोल्ड चेन की सुविधा शुरू होने वाली है। पहले यह सुविधा 2013 में शुरू की गई थी, लेकिन तकरीबन एक साल के बाद इसे बंद कर दिया गया। तब इसे पंजाब एग्री एक्सपोर्ट कॉर्पोरेशन लिमिटेड की तरफ से चलाया गया। अब नए गठजोड़ के अनुसार एयरपोर्ट अथॉरिटी अब पेरिशेबल कारगो और कोल्ड चेन सुविधा की देख-रेख करेगा।

इस सुविधा के न होने से पंजाब के व्यापारियों और किसानों को एक्सपोर्ट करने के लिए पेरिशेबल गुड्स को दिल्ली एयरपोर्ट तक पहुंचाना होता था, जिससे उनका ट्रांसपोर्ट का अतिरिक्त खर्च बढ़ रहा था। इस संबंध में फ्लाई अमृतसर इनीवेशन के राष्ट्रीय कन्वीनर योगेश कामरा ने कहा कि अमृतसर विकास मंच की यह बहुत पुरानी मांग थी। इसके शुरु होने पर यहां विदेशों में जाने वाली एयरलाइंस कंपनियों को फायदा होगा, वहीं अमृतसर के एयरपोर्ट को भी इसका काफी लाभ मिलेगा।

Amritsar

जलियांवाला बाग नरसंहार शताब्दी; कैप्टन अमरिंदर सिंह और हरसिमरत कौर बादल के बीच छिड़ी जंग

Published

on

By

punjab cm capt amrinder singh political war harisimrat kaur to jallianwala bagh on twitter

अमृतसर : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और केंद्रीय मंत्री व शिअद नेत्री हरसिमरत कौर बादल के बीच ट्विटर पर जंग छिड़ी हुई है। मामला जलियांवाला बाग नरसंहार के शताब्दी समारोह से शुरू हुआ था। punjab cm capt amrinder singh political war harisimrat kaur to jallianwala bagh on twitter

हरसिमरत कौर बादल ने राहुल गांधी द्वारा अमृतसर में शुक्रवार देर रात श्री दरबार साहिब पहुंचकर माथा टेकने पर आपत्ति जताई। इस पर कैप्टन अमरिंदर ने भी हरसिमरत पर निशाना साधा।

हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट किया- पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह राहुल गांधी को श्री अकाल तख्त साहिब लेकर गए, लेकिन वह उनसे पूछने की हिम्मत नहीं जुटा पाए कि क्या वो कांग्रेस की तरफ से टैंकों और मोर्टार के जरिए सिखों के सर्वोच्च धर्मस्थल को ध्वस्त करने के पाप को स्वीकार करते हैं।

punjab cm capt amrinder singh political war harisimrat kaur to jallianwala bagh on twitter

punjab cm capt amrinder singh political war harisimrat kaur to jallianwala bagh on twitter

हरसिमरत कौर बादल यहीं नहीं रुकी। उन्होंने इस नरसंहार को लेकर ब्रिटिश सरकार द्वारा बिना शर्त माफी मांगने के कैप्टन के बयान पर भी तंज कसा। हरसिमरत ने कहा कि कितना विरोधाभास है कि वही व्यक्ति जलियांवाला बाग नरसंहार को लेकर ब्रिटिश सरकार से माफी मांगने को कह रहा है, जिसकी सरकार ने दरबार साहिब को क्षति पहुंचाई। वह अंग्रेजों से तो माफी की उम्मीद करते हैं लेकिन ऑपरेशन ब्लू स्टार के लिए गांधी परिवार की माफी का क्या?

punjab cm capt amrinder singh political war harisimrat kaur to jallianwala bagh on twitter

हरसिमरत के इस ट्वीट पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने करारा जवाब दिया। उन्होंने हरसिमरत को उनके पूर्वजों का इतिहास याद करवाया। कैप्टन ने कहा कि क्या तुम, तुम्हारे पति सुखबीर बादल और उनके पिता प्रकाश सिंह बादल ने तुम्हारे महान दादा सरदार सुंदर सिंह मजीठिया जिन्होंने जलियांवाला बाग नरसंहार के दिन जनरल डायर को लजीज डिनर करवाया था, के कृत्य के लिए माफी मांगी है।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने यह भी आरोप लगाया कि सुंदर सिंह मजीठिया की इसी वफादारी के लिए 1926 में उन्हें नाइटहुड की उपाधि दी गई थी। बता दें कि इससे पहले जनरल डायर को डिनर करवाने का मुद्दा उठ चुका है। कुछ माह पहले कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने मीडिया के सामने दस्तावेज पेश कर पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया व हरसिमरत कौर बादल के पिता पर अंग्रेजों के पिट्ठू होने का आरोप लगाया था।

Continue Reading

Amritsar

जलियांवाला बाग नरसंहार शताब्‍दी; उपराष्‍ट्रपति वेंकैया, राहुल और मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

Published

on

By

jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

अमृतसर : जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 साल पूरे होने पर शताब्‍दी श्रद्धांजलि समारोह का आयोजन किया गया है। इस समारोह में उपराष्‍ट्रपति वेंकैया शामिल हुए। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सुबह जलियांवाला बाग पहुंचे। उनके साथ कैबनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू सहित अन्‍य मंत्री भी थे। उन्‍होंने जलियांवाला बाग के शहीद स्‍मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

ब्रिटिश सरकार ने एक बार फिर जलियांवाला बाग नरसंहार  की बरसी पर माफी मांगी है और इसे शर्मनाक घटना करार दिया है। भारत में ब्रिटिश उच्‍चाुयक्‍त डोमिनिक एक्‍यूथ ने कहा कि 100 साल पहले हुई यह घटना एक बड़ी त्रासदी थी।

jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

भारत में ब्रिटिश उच्‍चाुयक्‍त डोमिनिक एक्‍यूथ ने कहा कि यहां जो भी हुआ उसका हमें हमेशा खेद रहा है। यह बेहद शर्मनाक था। ब्रिटिश उच्‍चायुक्‍त ने शहीद स्‍मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। जलियांवाला बाग नहरसंहार के 100 वर्ष पूरे होने पर शताब्‍दी श्रद्धांजलि समारोह आयोजित किया गया है। इस समारोह में उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू भी पहुंचे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट में लिखा, ‘आज, जब हम भयावह जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 वर्षों का निरीक्षण करते हैं, तो भारत उस घातक दिन पर शहीद हुए सभी लोगों को श्रद्धांजलि देता है।उनकी वीरता और बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। उनकी स्मृति हमें उस भारत के निर्माण के लिए और भी अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करती है जिस पर उन्हें गर्व होगा।’

राहुल गांधी, मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सहित कई गण्‍यमान्‍य लोगों ने शहीद स्‍मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर जलियांवाला बाग और इसके आसपास के क्षेत्र में कड़ी सुरक्षा है। जलियांवाला बाग के मुख्‍य द्वार सहित पूरे क्षेत्र में पुलिस व अर्द्ध सैनिक बलोें के जवान तैनात हैं।

jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

समारोह में जालियांवाला बाग ट्रस्ट के ट्रस्टी श्वेत मलिक, तरलोचन सिंह, हरिंदर सिंह खालसा, आरएसएस के क्षेत्रीय प्रचारक रामेश्वर कुमार, पंजाब की पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांता चावला भी मौजूद थीं। इससे पहले उपराष्‍ट्रपति ने शहीद स्‍मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

पूरे शहर में सुबह से जुलूस निकाल कर जलियांवाला बाग के शहीदों  को याद किया गया। लोगाें ने मौन जुलूस निकालकर शहीदों को श्रद्धां‍जलि दी। इसमें पुरुष, महिलाएं, बच्‍चे सहित सभी आयुवर्ग के लोग शामिल हुए। इसके बाद लोग शहीद स्‍मारक पर श्रद्धांजलि देने भारी संख्‍या में पहुंच रहे हैं।

jallianwala bagh massacre century naydu rahul cm capt amrindra paid tribute to martyrs

तीन दिन पहले ब्रिटिश सरकार ने इस नससंहार के लिए माफी मांगी थी।  ब्रिटिश संसद में प्रधानमंत्री ने दुखद कांड पर खेद व्यक्त कर चुके हैं।  2014 में जब डेविड कैमरून जलियांवाला बाग आए थे उन्होंने भी खूनी का खूनी कांड को शर्मनाक बताया था।

भारत में ब्रिटिश उच्‍चाुयक्‍त डोमिनिक एक्‍यूथ ने लिखा- 100 साल पहले हुई यह घटना एक बड़ी त्रासदी थी। यहां जो भी हुआ उसका हमें हमेशा खेद रहा है। यह बेहद शर्मनाक था। हम इतिहास को दोबारा नहीं लिख सकते। उच्‍चायुक्‍त ने जलियांवाला बाग के विजिटर बुक पर लिखा हम भारत और ब्रिटेन के बीच मजबूत रिलेशनशिप चाहते हैं।

Continue Reading

Amritsar

मेरी पत्नी कोई स्टेपनी हैं कि जब जी चाहे कहीं भी फिट कर लो, कैप्‍टन पर फिर बरसे सिद्धू

Published

on

By

lok sabha election navjot singh siddhu attack on cm capt amrindar singh for wife fighting from bathinda

अमृतसर : कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर अपने मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधा है।अपनी पत्‍नी पत्‍नी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू को बठिंडा से हरसिमरत के खिलाफ चुनाव लड़ने की बात से चुनाव लड़ने की बात से चिढ़े सिद्धू ने कहा कि कैप्‍टन खुद वहां से चुनाव क्यों नहीं लड़ लेते। lok sabha election navjot singh siddhu attack on cm capt amrindar singh for wife fighting from bathinda

नवजोत सिद्धू को लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने स्टार प्रचारक बनाया है। वह बुधवार को चुनाव प्रचार के लिए केरल के वायनाड के लिए रवाना हुए। सिद्धू ने कहा, मेरे लिए हर प्रदेश से डिमांड आ रही है लेकिन पार्टी जहां-जहां डयूटी लगाएगी, प्रचार के लिए जाऊंगा।

lok sabha election navjot singh siddhu attack on cm capt amrindar singh for wife fighting from bathinda

lok sabha election navjot singh siddhu attack on cm capt amrindar singh for wife fighting from bathinda

नवजोत सिद्धू ने स्पष्ट किया कि उनकी पत्नी ने चंडीगढ़ से टिकट इसलिए मांगा था क्योंकि यह छोटी सीट है। यहां प्रचार करना आसान है। अगर उसे अमृतसर या कहीं और से लड़ने के लिए कहा जाता तो उसे मेरी जरूरत होती। संसदीय सीट का चुनाव काफी बड़ा होता है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, मैंने अखबारों में पढ़ा है कि कहा गया कि वह चंडीगढ़ में नहीं रहतीं इसलिए उन्हें टिकट नहीं दिया जा सकता। मुझे समझ नहीं आता चंडीगढ़ से तो टिकट इसलिए काट दी कि वह यहां रहती नहीं तो वह क्या बठिंडा में रहती हैं? यह दोहरे मापदंड क्यों? क्या वह कोई स्टेपनी हैं कि जब जी चाहे कहीं भी फिट कर लो।’

lok sabha election navjot singh siddhu attack on cm capt amrindar singh for wife fighting from bathinda

बठिंडा से चुनाव में उम्मीदवार उतारने के लिए कांग्रेस को कोई सशक्त उम्मीदवार नहीं मिल रहा है, इसलिए कहा जा रहा है कि नवजोत कौर सिद्धू को यहां से उतारा जाए। नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, ‘मेरी पत्नी ने चंडीगढ़ से टिकट मांगा था।

सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर के बठिंडा से उतारे जाने के सवालों पर कहा कि आखिर वह क्यों लड़ें बठिंडा से? उन्होंने कहा, वहां से जबरदस्त कैंडीडेट तो कैप्टन अमरिंदर सिंह होंगे। वह तो बठिंडा की तलवंडी साबो विधानसभा सीट से जीत भी चुके हैं। उनका बेटा रणइंद्र भी यहां से चुनाव लड़ चुका है। इस तरह बठिंडा से कैप्टन अमरिंदर सिंह को लड़ने के लिए कहकर नवजोत सिद्धू ने बॉल कैप्टन के पाले में डाल दी है।

Continue Reading

Trending

Translate »